डीजीपी के पड़ोसी पूर्व मंत्री प्रेम कुमार के घर में चोरी, नेता जी के घर से कैश भरा लॉकर ले भागे चोर

डीजीपी के पड़ोसी पूर्व मंत्री प्रेम कुमार के घर में चोरी, नेता जी के घर से कैश भरा लॉकर ले भागे चोर

पूर्व मंत्री व भाजपा विधायक प्रेम कुमार का सरकारी आवास बिहार के डीजीपी के सरकारी आवास से ठीक बगल में स्थित है। ऐसे में यह सवाल उठना लाजमी है कि जब बिहार के डीजीपी के आवास वाला इलाका भी चोरों से सुरक्षित नहीं है तो बाकी सूबे का हाल क्या होगा। प्रेम कुमार के आवास में चोरी की घटना को लेकर जब सचिवालय थाने से बात की गई तो थानाध्यक्ष सीपी गुप्ता ने बताया कि छानबीन चल रही है और जल्द ही चोरों की गिरफ्तारी हो जाएगी।

द दैनिक बिहार, सेंट्रल डेस्क : बिहार में सुशासन की सरकार है.. यह दावे सरकार के सभी नेता हर दिन दर्जनों बार करते है लेकिन राज्य के अंदर पुलिसिंग का हाल क्या है और अपराधियों पर पुलिस का कितना खौफ़ है यह हकीकत आपको इस घटना से मालूम पड़ जाएगी। बिहार के डीजीपी के सरकारी आवास से ठीक सटे पूर्व मंत्री प्रेम कुमार का आवास है। बीजेपी के पड़ोसी प्रेम कुमार के घर में चोरी हो गई। चोरों ने प्रेम कुमार के बेटे के कमरे में रखे लॉकर को ही उड़ा लिया। इस लॉकर में करीब 2 लाख से ज्यादा कैश और चांदी का है एक कटोरा था।

वीवीआइपी जोन में हुई चोरी से सनसनी

बीजेपी के वरिष्ठ नेता, बिहार सरकार के पूर्व मंत्री और गया से विधायक प्रेम कुमार का सरकारी आवास सर्कुलर रोड में स्थित है। यह बिहार का वीवीआइपी जोन है। इसी सड़क पर बिहार के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री से लेकर विधानसभा अध्यक्ष और अन्य मंत्रियों का आवास है। कई जज और बड़े अधिकारी के भी बंगले इसी इलाके में है लेकिन 3 सर्कुलर स्थित पूर्व मंत्री प्रेम कुमार के आवास में 17 जुलाई को चोरी हो गई। चोरी की इस घटना के बारे में सचिवालय थाने को जानकारी दे दी गई है। प्रेम कुमार जानते थे कि यह खबर अगर मीडिया तक पहुंची तो सरकार और पुलिस की फजीहत होगी लिहाजा पुलिस के आग्रह पर वह 3 दिनों तक के चुप रहे लेकिन जब पुलिस का ढुलमुल रवैया देखा तोआखिरकार उन्होंने यह राज खोल दिया है। पूर्व मंत्री प्रेम कुमार ने कहा है कि पुलिस को उनके बेटे की तरफ से घटना की जानकारी दी गई थी। पुलिस के अधिकारियों ने कहा था कि 3 दिनों में वह चोर को पकड़ लेंगे लेकिन जब 3 दिन गुजर गए और पुलिस की तरफ से कोई जवाब नहीं आया तो आखिर वह सब को जानकारी दे रहे हैं।

चोरों की तलाश में है पुलिस, चोर फरार है

पूर्व मंत्री प्रेम कुमार का सरकारी आवास बिहार के डीजीपी के सरकारी आवास के ठीक बगल में स्थित है। ऐसे में यह सवाल उठना लाजमी है कि जब बिहार के डीजीपी के आवास वाले इलाके में ही चोर अपना काम आराम से कर दे रहे है और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है, तो बाकी सूबे का हाल क्या होगा। पूर्व मंत्री के आवास में चोरी की घटना को लेकर जब सचिवालय थाने से बात की गई तो थानाध्यक्ष सीपी गुप्ता ने कहा कि छानबीन चल रही है और जल्द ही चोरों की गिरफ्तारी हो जाएगी। उधर प्रेम कुमार ने बताया कि 10 जुलाई को वह अपनी पत्नी के साथ अपने विधानसभा क्षेत्र गया चले गए थे। उनका एस्कॉर्ट भी साथ गया था। 11 जुलाई को उनका बेटा प्रेमसागर भी कोलकाता चला गया था। इधर 13 जुलाई को उनके सरकारी आवास पर तैनात गार्ड को गया एसएसपी के आदेश पर हटा दिया गया। 17 जुलाई की रात जब प्रेमसागर पटना पहुंचा और जब अपने कमरे में रखे अलमीरा को देखा तो चौंक गया। अलमीरा से लॉकर गायब था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *