मांझी ने सरकार पर हो रहे हमले का ट्विट कर दिया जवाब..

मांझी ने सरकार पर हो रहे हमले का ट्विट कर दिया जवाब..

राज्य में अल्पसंख्यकों द्वारा दलित उत्पीड़न के मामले पर सियासत जारी है। ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने सरकार का बचाव करते हुए मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि बिहार में कानून अपना काम कर रहा है। कुछ लोगों को दलित-मुस्लिम एकता पर पेट में दर्द हो रहा है। जिसके जवाब में देरी न करते भाजपा ने मांझी को आप अनुकंपा वाला बता दिया।

चेतना प्रकाश, द दैनिक बिहार : पूर्णिया, चंपारण, गोपालगंज और जमुई में मुसलमानों की ओर से दलितों पर हो रहे कथित अत्याचार को लेकर भाजपा के कुछ नेता आरोप लगाकर सरकार पर सवाल उठा रहे हैं। भाजपा कोटे के मंत्री जनक राम ने कहा था कि गोपालगंज और जमुई में महादलितों का मत परिवर्तन कराया जा रहा है।

दलित-मुस्लिम एकता

भाजपा नेताओं ने पूर्णिया के एक गांव में अल्पसंख्यकों पर दलितों की बस्ती में आग लगाने का आरोप लगाते हुए स्थानीय प्रशासन की आलोचना की थी। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने चंपारण की एक घटना का जिक्र अपने फेसबुक पोस्ट में किया था। मांझी ने टवीट कर जवाब दिया कि, पूर्णिया की घटना के बाद वहां के मुस्लिम समाज के लोगों ने दलित समाज के भाइयों के पक्ष में खड़े रहकर दलित-मुस्लिम की एकता साबित कर दी!

दोनों दलों ने बिना नाम लिए एक-दूसरे पर हमला बोला है।

बिना मांझी का नाम लिए अनुकंपा पर राजनीति करने वाला दलित नेता का आरोप लगाया। श्री रंजन ने कहा कि अनुकंपा पर राजनीति करने वाले दलित नेताओं का यह सच जानिए। बंगाल हिंसा: चुप, बायसी हिंसा: चुप, चंपारण हिंसा: चुप और अगर कोई आईना दिखा दे तो, हाय मेरी दलित मुस्लिम एकता, हाय मेरा वोटबैंक, हाय मेरा सेक्युलरिज्म।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *