भोजपुरी कला उत्सव का मोतिहारी में 1,2 और 3 अप्रैल 2022 को आयोजन होगा…

भोजपुरी कला उत्सव का मोतिहारी में 1,2 और 3 अप्रैल 2022 को आयोजन होगा…

पटना, द दैनिक बिहार : संस्कार भारती के भोजपुरी कला‌ समूह की बैठक रविवार को पंडित छोटेलाल मिश्र संगीत महाविद्यालय में हुआ। इस बैठक में यह तय हुआ कि भोजपुरी कला उत्सव का आयोजन मोतिहारी में 1,2 और 3 अप्रैल 2022 को होगा। इस आयोजन के केन्द्र में स्वतंत्रता अमृत महोत्सव रहेगा। इस मौके पर संगठन मंत्री वेदप्रकाश ने कहा कि यह आयोजन भोजपुरी गौरव बोध का परिचायक होगा। इस आयोजन में कला और साहित्य के हर पक्ष को शामिल करने की कोशिश होगी। इस मौके पर बोलते हुए उतर बिहार प्रान्त के उपाध्यक्ष ने कहा कि स्थानीयता के गौरव बोध बढ़ाना हमारा लक्ष्य है।
इस मौके पर भोजपुरी कला उत्सव के संयोजक और उत्तर बिहार प्रान्त के मंत्री जलज कुमार अनुपम ने कहा कि अब यह वक्त दुनिया‌‌ को बताने का है कि भोजपुरी के पास विरासत के तौर पर क्या है। ऐसा प्रयास करना है कि इस कार्यक्रम का प्रसार देश के महानगरीय संस्कृति तक हो। भोजपुरी कला उत्सव के संयोजक डाॅ. ब्रजभूषण मिश्र ने कहा कि कला और साहित्य के नाम पर हर वामपंथी षड़यंत्र को उजागर करना होगा। उत्तर बिहार प्रान्त के महामंत्री सुरभि दत्ता ने कहा कि कार्यक्रम का एक उदेश्य युवाओं को जोड़ना भी है। उतर बिहार के मंत्री दिवाकर राय ने कहा कि भोजपुरी का यह आयोजन समाज को नयी दिशा देगा। इस मौके पर केन्द्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी से डाॅ. अंजनी श्रीवास्तव, डाॅ. प्रमात्मा मिश्र, सुनील घोड़के, लोकगायिका आशा, बेतिया से प्रशान्त सौरभ, चंदन कुमार, धर्मेन्द्र कुमार आदि उपस्थित रहे। इस मौके पर कार्यक्रम का संयोजन मोतिहारी संस्कार भारती के महामंत्री आलोक चंद्रा और धन्यवाद ज्ञापन अध्यक्ष शैलेन्द्र सिन्हा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.