बारिश से फसल को नुकसान, किसानों की बढ़ी चिंता…

बारिश से फसल को नुकसान, किसानों की बढ़ी चिंता…

Supaul, The Dainik Bihar : सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज में प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत रविवार को मौसम ने आचानक करवट बदली. तेज हवा के साथ हुई बारिश से खेतों में तैयार धान की फसल जमीन पर गिर कर लोटपोट गई.रही-सही कसर सोमवार को हुई झमाझम बारिश ने पूरी कर दी. धान की फसल पानी में तैरने लगी। खेतों में जलभराव से तमाम किसानों के सब्जी की फसल बर्बाद हो गई है.किसान मायूस हैं. प्रभावित किसानों ने शासन से बर्बाद हुई फसलों का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की गुहार लगाई है.
इस साल समय-समय पर बारिश होने के चलते किसानों के खेतों में धान की फसल काफी अच्छी थी.अधिकांश किसानों के धान की फसल पक कर कटाई योग्य हो चुकी है.

कुछ किसानों ने तो फसलों की कटाई-मड़ाई का काम भी शुरू कर दी है. खेतों में लहलहाती फसल को देखकर किसान काफी खुश थे. मगर, रविवार को मौसम ने अचानक करवट ली और तेज हवा के साथ हुई बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. हवा के झोंको बीच हुई बारिश से अधिकतर किसानों की धान की फसलें जमीन पर गिर गई हैं. खेतों में गिरी फसल के बालियों पर पानी तैर रहा है. जिससे फसलों के सड़ने की आशंका बढ़ गई है.क्षेत्र के मानगंज पश्चिम , मानगंज पुरव, गुड़िया, गोनाहा ,ओरलाहा, मिरजवा, पिलुवाहा, हरिहरपट्टी आदि पंचायतों के किसानों की धान की फसल खेतों में गिर कर लोट-पोट हो चुकी है.

किसानों का कहना है की बड़े अरमानों से धान की तैयार फसल लगाई थी एक तो सरकार रीन चुकाने के लिए नोटिस भेज दिया है. सोचे धान बेचकर रीन चुका सके, कई किसानों ने कहा बेटी की सादी धान बेचकर करेंगे लेकिन तूफानी बारिश ने सभी अरमानों को पानी में फिर दिया .पहले ही पानी में डूबकर बर्बाद हो रही थी। इस आंधी-पानी के चलते धान की फसलें खेतों में गिर गई है। क्षेत्र के मोहम्मद जलाल उददीन, सत्यनारायण साह ,मकेस्वर साह, पलटन साह, बेचु साह ,छेदी सरदार मोहन सरदार, आदि किसानों ने बर्बाद हुई फसलों का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की मांग की है,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *